Sunday, September 23, 2018

‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ के दबदबे के आगे कर्नाटक में ‘नया भारत पार्टी’ का चुनाव चिन्ह रोका गया ?  

‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ के दबदबे के आगे कर्नाटक में ‘नया भारत पार्टी’ का चुनाव चिन्ह रोका गया ?

 

बात चौकाने वाली अवश्य है लेकिन यह सत्य है कि ‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ (All India United Democratic Front) के कारण एक नवोदित पार्टी ‘नया भारत पार्टी’ (Naya Bharat Party) द्वारा कर्नाटक में मांगे गए चुनाव चिन्ह (Election Symbol)  के आबंटन को रोक दिया गया. अभी हाल ही ‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ (AIUDF) ने कर्नाटक (Karnatak) की राजनीति में प्रवेश किया है.

ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट क्या है ? :  ‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’  पूर्व ‘ऑल आसाम यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ (All Assam United Democratic Front) का नया व बदला गया नाम है. हकीकत में यह आसाम में मुसलमानों का एक बहुत ही सक्रिय व बड़ा राजनीतिक संगठन है और पूरे हिन्दुस्तान में राष्ट्रीय स्तर पर विस्तार करने के उद्देश्य से इसके नाम में ‘आसाम’ (Assam) की जगह ‘इंडिया’ (India) कर दिया गया और इस बदलाव को बकायदा चुनाव आयोग (Election Commission) में पंजीकृत भी कर दिया गया है. मई, 2018 में कर्नाटक में होने वाले विधान-सभा चुनावों (Karnataka Assembly Elections, 2018) में आसाम की यह पार्टी पूरी ताकत के साथ मैदान में उतरने वाली है.

ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट पर सेना प्रमुख का बयान ? : अभी हाल ही में ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट पर सेना प्रमुख (Military Head) ने बयान दिया है जिसने पूरे देश में हलचल मचा दी. सेना प्रमुख ने कहा कि ‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ की ग्रोथ (विकास) की स्पीड भारतीय जनता पार्टी (Bharatiy Janataa Party  – BJP) से भी बहुत ज्यादा है.

क्या नया भारत पार्टी’ का चुनाव चिन्ह ‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ के दबाव के कारण रोका गया ? : मै यह तो नहीं कह सकता कि ‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ के दबाव के कारण ‘नया भारत पार्टी’ को मई, 2018 में कर्नाटक में होने वाले विधान-सभा चुनावों में चुनाव चिन्ह (Election Symbol) को नहीं दिया जा रहा है लेकिन यह सत्य है, ‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ के कारण ही ‘नया भारत पार्टी’ को इसके चाहे गए ‘चुनाव चिन्ह’ देने से हालफिलहाल मना कर दिया जिसे ‘नया भारत पार्टी’ द्वारा चुनोती भी दी गयी है.

नया भारत पार्टी’ का चुनाव चिन्ह किस बहाने / कारण से रोका गया ? :  चुनाव आयोग ने यह कहते हुए ‘नया भारत पार्टी’ को इसके चाहे गए ‘चुनाव चिन्ह’ देने से हालफिलहाल मना कर दिया  कि ‘नया भारत पार्टी’ द्वारा चाहे गया ‘चुनाव चिन्ह’, ‘ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट’ के चुनाव चिन्ह से मिलता जुलता (Similar) है. जबकि दोनों ‘चुनाव चिन्हों’ के शब्दों में मात्र 33% समानता (Similarity) है और image में तो 5% से भी कम समानता है. जबकि चुनाव आयोग की सूची में उपलब्ध दो दर्जन से भी ज्यादा चुनाव चिन्ह 50% से भी ज्यादा एक दूसरे से मिलते है.

रिपोर्ट : मनीष मेवाड़ा, जयपुर (Manish Mewara, Jaipur)

All India United Democratic Front

Related Post

Add a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पेट्रोल-डीजल की खुदरा कीमतों के निर्धारण में जनता को लूटा जा रहा है – नया भारत पार्टी

पेट्रोल-डीजल की खुदरा कीमतों के निर्धारण में जनता को लूटा जा रहा है – ...

पेट्रोल-डीजल की खुदरा कीमतों के निर्धारण में जनता को लूटा जा रहा है – नया भारत पार्टी (Naya Bharat Party)   देश में पेट्रोल-डीजल ...

SiteLock