Friday, December 14, 2018

रेलवे द्वारा टिकीट बुकिंग में नयी व्यवस्था  

 रेलवे द्वारा टिकीट बुकिंग में नयी व्यवस्था

railways-announce-10-per-cent-rebate-in-vacant-train-berthsट्रेनों में लोअर बर्थ के लिए चुकाना पड़ सकता है एक्स्ट्रा चार्ज : रेलवे रिजर्वेशन के दौरान यात्री को बर्थ का विकल्प चुनना होता है। ऐसे में ज्यादातर यात्री लोअर बर्थ का विकल्प चुनते हैं। लेकिन अब लोअर बर्थ चुनने के लिए आपको ज्यादा कीमत चुकानी पड़ सकती है।  जी हां, रेल मंत्रालय ट्रेन के स्लीपर कोच में निचली बर्थ के लिए 50 से 100 रूपए एक्स्ट्रा वसूल सकता है। रेलवे के अनुसार यात्री लोअर बर्थ ज्यादा चुनते हैं। लेकिन रेलवे का कहना है कि चार्ट बनते वक्त भी रेलवे महिलाओं और बुजुर्गों का ध्यान रखता है। इसलिए लोअर बर्थ बुजुर्गों को दी जाएगी। हालांकि यह प्रस्ताव अभी विचाराधीन है लेकिन इस जल्द ही अमल हो सकता है।

वैसे इस नई योजना को रेलवे की कमाई के नए तरीके के रूप में देखा जा रहा है। कुछ समय से देखा जा रहा है कि रेलवे सीधी बढ़ोतरी नहीं कर रहा है बल्कि इसके लिए नए-नए नियम और योजनाओं को लागू कर कमाई कर रहा है। हालांकि इस योजना से सीनियर सिटीजन्स को तो बहुत फायदा होगा लेकिन कही न कही हमारी जेब पर असर जरूर डालेगी।

पे-ऑन-डिलीवरी सेवा : रेल का टिकट लेने के लिए लंबी लाइन में न लगना पड़े इससे बचने के लिए आईआरसीटीसी (इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉपरेरेशन) ने एक नई सेवा शुरू की है। आईआरसीटीसी ने रेल टिकटों को घर पर पहुंचाने की सेवा शुरू की है। बुक की हुई टिकट का पेमेंट कैश ऑन डिलीवरी भी करने का विकल्प है। इसके अलावा किसी और तरीके से भी भुगतान कर सकते हैं। अब आप चाहें तो आईआरसीटीसी से घर बैठे बिना भुगतान किए ऑनलाइन रेल टिकट बुक करवा सकते हैं, किन्तु इसमें शर्त ये है कि घर पर टिकट डिलीवरी के समय आपको टिकट की राशि का भुगतान करना होगा। आईआरसीटीसी ने ऐसे लोगों के लिए इस सुविधा को शुरू किया है, जो ऑनलाइन टिकट बुक तो करना चाहते हैं लेकिन पेमेंट नहीं करना चाहते।

ई-कॉमर्स कंपनी की तर्ज पर ऐसे लोगों के घर टिकट भेज कर टिकट की राशि कैश में भी ली जाएगी। धोखाधड़ी से बचने के लिए आईआरसीटीसी ने कुछ शर्तें भी रखी हैं। यह सेवा बिल्कुल ऑनलाइन शॉपिंग की तर्ज पर है जैसे कि ऑनलाइन शॉपिंग के बाद जब प्रॉडक्ट घर आ जाता है तब पैसे देते हैं वैसे ही जब टिकट आपके हाथ में आ जाएगा तभी पैसे देने होंगे। इसके लिए आईआरसीटीसी चार्ज लेगा।अगर आप 5 हजार रुपये तक की टिकट बुक करते हैं तो 90 रुपये और इससे ज्यादा की टिकट बुक करते हैं तो 120 रुपये डिलीवरी चार्ज के रूप में देने होंगे।आईआरसीटीसी के मुताबिक फिलहाल ये सर्विस 4,000 पिन कोड वाले शहरों में लागू की गई है।

पे ऑन डिलीवरी सुविधा के लिए एक बार रजिस्ट्रेशन करना होगा जिसमे पेन कार्ड और आधार कार्ड का नंबर देना होगा। रजिस्‍ट्रेशन कराने के बाद आईआरसीटीसी की वेबसाइट या मोबाइल ऐप से कभी भी टिकट बुक कराया जा सकेगा। पे ऑन डिलीवरी सेवा के तहत टिकट यात्रा की तारीख से कम से कम पांच दिन पहले बुक कराना होगा। आईआरसीटीसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आईआरसीटीसी ने अपनी वेबसाइट और मोबाइल ऐप के जरिए पे-ऑन-डिलीवरी (पीओडी) की शुरूआत की है। उम्मीद है की रेलवे की इस नयी सेवा से आप दलालों के चक्कर और घंटो लंबी लाइन से जरूर बच जाएंगे।

रेल मंत्रालय द्वारा एक ओर विशेष सेवा शुरू होने वाली है, अब जल्द ही रेलवे अलग-अलग भाषाओं में भी टिकटिंग की  सुविधा शुरु करने जा रहा हैं। अभी तक रेलवे में हिंदी और अंग्रेजी में टिकट मिलती है, लेकिन नई वेबसाइट के बाद अब अलग-अगल भाषाओं में टिकट की बुकिंग की जा सकेगी।

train-ticket-reservation_650x400_71479841889

Related Post

Add a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पेट्रोल-डीजल की खुदरा कीमतों के निर्धारण में जनता को लूटा जा रहा है – नया भारत पार्टी

पेट्रोल-डीजल की खुदरा कीमतों के निर्धारण में जनता को लूटा जा रहा है – ...

पेट्रोल-डीजल की खुदरा कीमतों के निर्धारण में जनता को लूटा जा रहा है – नया भारत पार्टी (Naya Bharat Party)   देश में पेट्रोल-डीजल ...

SiteLock