Sunday, October 22, 2017

Extraordinary – असाधारण

आधुनिक विज्ञान से विकास हो रहा हैं याँ विनाश- भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-47)

आधुनिक विज्ञान से विकास हो रहा हैं याँ विनाश- भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-47)   आध्यात्म ज्ञान के अनुसार सूक्ष्म शरीर के अंदर एक और तीसरा शरीर हैं, जिसे कारण शरीर कहा गया हैं। यह बीज रूप कारण शरीर भी अन्तःकरण में ही अवस्थित रहता हैं। इसके बाद आत्म तत्त्व यानि आत्मा का स्थान होता हैं, जो मूल रूप से ...Full Article

आधुनिक विज्ञान से विकास हो रहा हैं याँ विनाश। भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-46)-

हमारा आधुनिक विज्ञान जीवन के मूलभूत रहस्यों को जानकर अपने विकास की राह तय करता, यदि विज्ञान हमारे शरीर की रचना के बारे में बताये गए वैदिक ज्ञान को ...Full Article

राजस्थान : अस्पताल में आत्मा लेने पहुचे

  राजस्थान में कोटा के सरकारी एमबीएस अस्पताल में एक बार फिर कुछ ग्रामीण अपने मृत परिजन की आत्मा लेने पहुंच गए। इन ग्रामीणों ने अस्पताल के न्यूरो सर्जरी ...Full Article

न्यूटन का गुरूत्वाकर्षण का सिद्धान्त गलत हैं – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-18)

न्यूटन का गुरूत्वाकर्षण का सिद्धान्त गलत हैं – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-18) वायु तत्त्व की प्रकृति व कार्य प्रणाली जब हम पूर्णतया समझेंगें, तब ही हमें पूरी बात समझ ...Full Article

न्यूटन का गुरुत्त्वाकर्षण का सिद्धान्त गलत हैं – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-16)

न्यूटन का गुरुत्त्वाकर्षण का सिद्धान्त गलत हैं – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-16) विज्ञान का एकमत यह भी हैं कि चन्द्रमा पृथ्वी का हिस्सा हैं, जो टूटकर अलग हो गया। ...Full Article

‘न्यूटन’ का गुरुत्त्वाकर्षण का सिद्धान्त गलत हैं ? – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-15)

‘न्यूटन’ का गुरुत्त्वाकर्षण का सिद्धान्त गलत हैं ? – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-15) हमने अभी तक ‘न्यूटन’ का गुरुत्त्वाकर्षण का सिद्धान्त गलत हैं ? – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-11) ...Full Article

पदार्थ की अवस्थाएं तीन नहीं बल्कि पाँच होती हैं – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग -6)

पदार्थ की अवस्थाएं तीन नहीं बल्कि पाँच होती हैं – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग -6) / भाग – 5 से क्रमश:  प्रथम पायदान पर ‘आकाश तत्व’ को माना गया है ...Full Article

पदार्थ की अवस्थाएं तीन नहीं बल्कि पाँच होती हैं (विज्ञान पड़ाव हैं, मंजिल नहीं) – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-5)

पदार्थ की अवस्थाएं तीन नहीं बल्कि पाँच होती हैं (विज्ञान पड़ाव हैं, मंजिल नहीं) – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-5) ज्ञान सत्य को कहते हैं। ज्ञान में कभी परिवर्तन नहीं ...Full Article

सुमेरपुर की सफलता का रहस्य – व्यवस्थित ट्रांसपोर्टेशन व्यवस्था है.

राजस्थान के पाली जिले का एक छोटा मात्र 30000 की आबादी वाला लेकिन महत्वपूर्ण शहर सुमेरपुर लम्बे समय से एक सफल वाणिज्यिक शहर रहा है  व आज भी राजस्थान ...Full Article

देवगिरी गुफा रोमांचकारी

सुमेरपुर | राजस्थान : जवाई बाँध स्थित देवगिरी गुफा रोमांचकारी व अद्भुत है.Full Article

एफिल टावर से पांच गुना बड़ी गुफा.

एफिल टावर से पांच गुना बड़ी गुफा.Full Article
आधुनिक विज्ञान से विकास हो रहा हैं या विनाश – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-48)

आधुनिक विज्ञान से विकास हो रहा हैं या विनाश – भारतीय पुरातन ज्ञान (भ...

आधुनिक विज्ञान से विकास हो रहा हैं या विनाश – भारतीय पुरातन ज्ञान (भाग-48)   त्रेता युग में जब राम रावण युद्ध हुआ था, ...

SiteLock