Friday, September 6, 2019

जीएसटी का तत्काल सबसे बड़ा फ़ायदा चीन को – GST benefits China?  

जीएसटी का तत्काल सबसे बड़ा फ़ायदा चीन को – GST benefits China?

 

अभी भी जीएसटी (GST) से आम व्यापारी बड़ा ही चिंताग्रस्त है. व्यापारी  जीएसटी  की टैक्स रेट (GST Tax Rate) से ज्यादा परेशान नहीं है. देश के पी.एम. मोदीजी (P.M.Modi Ji) कभी जीएसटी को देश की अखण्डता व एकता (Unity Of Country) से जोड़ते है, तो कभी महंगाई (Inflation) से. एक आम व्यापारी ये बाते सुन-सुन कर समझ ही नहीं पा रहा है कि जीएसटी से केसे देश की अखण्डता व एकता बचेगी तथा केसे महंगाई कम होगी. यदि ऐसा ही होना था तो फिर मोदी जी ने इतने साल देरी क्यों कर दी, यह अर्थ शास्त्र पहले क्यों समझ में नहीं आया.

हकीकत में आर्थिक नफे-नुकसान के लिए एक व्यापारी के लिए वैट (VAT) व जीएसटी (GST) से कोई ख़ास फर्क नहीं पड़ता. यदि कोई फर्क है तो क्रियान्वयन (Execution of GST by Trader) का. देश का अधिकाँश व्यापारी कंप्यूटर (Computer) व इन्टरनेट (Internet) से अभी बहुत दूर है. यदि कोई जुड़ा भी हुआ है तो infrastructure उसको उपलब्ध ही नहीं है. सरकार तो मान के चलती है कि यदि व्यापारी को हिन्दुस्तान में व्यापार करना है तो वह अपने आप व्यवस्था करेगा.

जीएसटी के क्रियान्वयन के लिए व्यापारी की प्राथमिक आवश्यकता है – कंप्यूटर (Computer), कंप्यूटर एक्सेसरीज (Computer Accessories) व इन्टरनेट (Internet). भारत की स्थिति ऐसी है कि कंप्यूटर, कंप्यूटर एक्सेसरीज व इन्टरनेट एक्सेसरीज (Internet Accessories) सभी देश के बाहर से आयात (Import) होती है तथा लगभग अधिकाँश आयात चीन (Import from China) से होता है. यदि कोई इंस्ट्रूमेंट भारत में बनाना बताया जाता है तो वो भी मन को बहलाने की बात ही होती है क्योकि भारत में ASSEMBLING से ज्यादा कुछ नहीं होता.

चूंकि जीएसटी के क्रियान्वयन के लिए व्यापारी का सबसे बड़ा निवेश / खर्चा कंप्यूटर, कंप्यूटर एक्सेसरीज व इन्टरनेट, इन्टरनेट एक्सेसरीज व सॉफ्ट वेयर (Software) पर होना है, उनमे से  कंप्यूटर, कंप्यूटर एक्सेसरीज व इन्टरनेट एक्सेसरीज आदि का अधिकाँश प्रत्यक्ष व  प्रत्यक्ष आयात चीन (China) से ही होता है.

इससे स्पष्ट है कि देश को कब और क्या मिलेगा, वो तो सिर्फ मोदी जी व जेटली जी ही जानते है लेकिन चीन को भारत का बहुत बड़ा जीएसटी  बहुत बड़ा मार्केट (GST Market for China) मिल गया, जिससे  चीन की अर्थ व्यवस्था (Economy of China) को बहुत बड़ा फ़ायदा पहुचेगा.

कुछ दिनों पहले भी नागपुर की मेट्रो (Nagpur Metro) का ठेका भी चीन की ही कंपनी को दिया गया, जबकि पूरा देश जानता है कि चाइनीज माल कितना घटिया (Sub-standard Chinese Goods) होता है. हिन्दुस्तान से कमा कर चीन भारत को ही आँख दिखा रहा है. क्योकि भारत की सरकारों के लिए जीएसटी ज्यादा महत्त्वपूर्ण (GST is only Important) है, फ़ायदा भले ही चीन को हो.इससे स्पष्ट है कि देश को कब और क्या मिलेगा, वो तो सिर्फ मोदी जी व जेटली जी ही जानते है लेकिन चीन को भारत का बहुत बड़ा जीएसटी  बहुत बड़ा मार्केट (GST Market for China) मिल गया, जिससे  चीन की अर्थ व्यवस्था (Economy of China) को बहुत बड़ा फ़ायदा पहुचेगा.

Related Post

Add a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्या रिज़र्व बैंक (RBI) फिर से नोट-बंदी (Demonetization) या नोट-कमी करेगी ?

क्या रिज़र्व बैंक (RBI) फिर से नोट-बंदी (Demonetization) या नोट-कमी करेगी ? (इस विषय का विडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Click ...

SiteLock