Friday, September 6, 2019

बंद-पुराने नोटों को बदलवाने में एन.आर.आई. लोगो को बड़ा झटका  

बंद-पुराने नोटों को बदलवाने में एन.आर.आई. लोगो को बड़ा झटका

देश के लगभग प्रत्येक नागरिक को पता है कि 8 नवम्बर, 2016 को पी एम मोदीजी  की घोषणा से लेकर बाद के स्पष्टीकरणों में स्पष्ट था कि 30 दिसम्बर, 2016  तक भारत की सभी बैंक बंद-पुराने नोट जमा लेगी तथा 30 दिसम्बर के बाद 31 मार्च, 2017 तक बंद-पुराने नोट रिज़र्व बैंक की चयनित / अधिकृत शाखाओं में जमा हो सकेंगे.

समय के साथ रिज़र्व बैंक ने कई बार अपने नियम व नीति बदली तथा 30 दिसम्बर, 2016  की तारीख भी निकल चुकी है. 30 दिसम्बर, 2016  की समय अवधि निकलने बाद, रिज़र्व बैंक ने 31 मार्च तक रिज़र्व बैंक में बंद-पुराने नोट की घोषित नीति में बड़ा परिवर्तन कर डाला और आम भारतीय से रिज़र्व बैंक में नोट जमा लेने से मना कर दिया गया. यानिकी आम भारतीय की गलती या मजबूरी में बचे हुए बंद-पुराने नोट न केवल रद्दी हो गए बल्कि गेर-कानूनी कागज़ बन गए.

लेकिन परिवर्तित नियम के अनुसार 30 दिसम्बर, 2016 के बाद 31 मार्च तक रिज़र्व बैंक में बंद-पुराने नोट जमा कराने के लिए मात्र दो केटेगरी के लोगो को छूट दी गयी जो नोट बंदी के समय काल (8 नवम्बर  से 30 दिसम्बर, 2016 तक)  में भारत में नहीं थे या नहीं आये –

  1. आम साधारण (रेजिडेंट) भारतीय नागरिक जो इस पूरी अवधि में भारत से बाहर रहे.
  1. एन.आर.आई. (Non Resident Indian) जो इस पूरी अवधि में भारत में नहीं आये.

एन.आर.आई. (Non Resident Indian) द्वारा बंद पुराने नोट जमा करवाने के लिए मुख्य रूप से तीन शर्ते रखी गयी है

  1. बंद पुराने नोट भारत के बाहर से लाये गए हो.
  2. भारत में आते वक्त एअरपोर्ट पर उपस्थित सक्षम अधिकारी के समक्ष बंद पुराने नोट की घोषणा कर प्रमाण-पत्र लिया हो.
  3. अधिकतम रू. 25,000/- रिज़र्व बैंक की मात्र 5 ऑफिस (दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकत्ता व नागपुर) में जमा करवा सकेंगे.

इन शर्तो के सारांश के अनुसार कोई भी  विदेशी मुद्रा कमाऊ एन.आर.आई. (Non Resident Indian) व्यवहारिक रूप से बंद-पुराने नोट रिज़र्व बैंक से भी नहीं बदला सकता क्योकि मात्र रू. 25,000/- के बंद पुराने नोट को बदलवाने लिए भारत आकर उस रिज़र्व बैंक की ऑफिस तक जाने का खर्चा ही 25,000/- से ज्यादा हो जाएगा. ऐसी स्थिति में कोई भी एन.आर.आई. सिर्फ नोट बदलवाने के लिए भारत क्यों आयेगा ?

दूसरा प्रश्न यह भी है कि रू. 25,000/- से अधिक नोटों का क्या होगा तथा उसके भारतीय बंद घर में पड़े नोटों का क्या होगा क्योकि इन्हें बदलवाना संभव ही नहीं है. इससे स्पष्ट है कि सरकार एन.आर.आई. (Non Resident Indian) लोगो के नोट बदलने की इच्छुक ही नहीं है.

सम्बंधित आदेश की प्रति यही नीचे सभी पाठको की जानकारी के लिए प्रस्तुत की जा रही है –

लेखक : सीए के. सी. मूंदड़ा

साथ ही यह देखे कि रिज़र्व बैंक द्वारा नोट बदलने संबंधी नया / ताजा नोटिफिकेसन क्या कहता है –

Relevant FAQ by RBI

Related Post

Add a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्या रिज़र्व बैंक (RBI) फिर से नोट-बंदी (Demonetization) या नोट-कमी करेगी ?

क्या रिज़र्व बैंक (RBI) फिर से नोट-बंदी (Demonetization) या नोट-कमी करेगी ? (इस विषय का विडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Click ...

SiteLock